शबाना आजमी हिंदी सिनेमा के प्रसिद्ध संगीतकार और लेखक

हिंदी सिनेमा जगत  की एक मशहूर कलाकार शबाना आजमी अभिनेत्री होने के साथ-साथ सामाजिक कार्यों में भी काफी सहयोग करती रहती हैं।

 

शबाना आजमी हिंदी सिनेमा के प्रसिद्ध संगीतकार और लेखक जावेद अख्तर की पत्नी है। शबाना आजमी ने ऐसे कई तरह-तरह के रोल अदा किए हैं, जो कि हर कोई कलाकार नहीं कर सकता है।

 

शबाना आजमी जी ने कई सारे फिल्मों में कार्य किया,तथा आज भी यह फिल्मों में सक्रिय रहती हैं, शबाना आजमी को भारत के सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्रियों में से एक माना जाता है साथ ही साथ इन्होंने कई सारी पुरस्कार भी प्राप्त किए हैं।

 

 

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से हम शबाना आज़मी के जीवन चरित्र से जुड़ी हर एक जानकारी हासिल करेंगे जो कि हर एक भारतीय नागरिक को जानी चाहिए क्योंकि ये एक अभिनेत्री होने के साथ-साथ समाजसेवी भी थी।

 

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से हम जानेंगे कि शबाना आज़मी की प्रारंभिक जीवनी क्या थी। उन्होंने कहां तक की पढ़ाई  की , उनकी शादी किससे हुई एवं उनका करियर क्या था ,आदि सभी जानकारी हासिल करेंगे।

 

शबाना आजमी की आरंभिक जीवनी –

 

शबाना आजमी का जन्म 18 सितंबर 1950 ईस्वी में हैदराबाद एक मुस्लिम परिवार में हुआ। इनके पिता का नाम कैफी आज़मी था,जोकि एक मशहूर शायर और कवि थे। एवं शबाना आज़मी की माता जी का नाम शौकत आज़मी था, जोकि इंडियन थिएटर की आर्टिस्ट थी।

 

शबाना आजमी के घर का नाम मुन्नी था। शबाना जी ने शुरू से ही सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में अपनी खास पहचान बनाई हुई थी। शबाना जी  मुख्य रूप से बच्चों से जुड़े मसलों और एड्स से जुड़े मुद्दों पर निरंतर  सक्रिय रहती हैं।

 

शबाना आजमी का एक भाई भी है। जिसका नाम बाबा आजमी है।। वह एक सिनेमेंटोग्राफर है। शबाना आजमी ने बचपन में अपने मां से विरासत में मिली अभिनय प्रतिभा को सीख कर उसे सकारात्मक मोड़ देकर  हिंदी फिल्म में अपने सफर की शुरुआत की। और हिंदी फिल्म में कई सारे अद्वितीय कलाकारी करके प्रसिद्ध हो गई।

 

शबाना आजमी की शिक्षा – (  Shabana Azmi’s education )

 

शबाना आजमी ने अपनी  प्रारंभिक शिक्षा क्वीन मैरी स्कूल जो कि मुंबई में स्थित है से पूरी की, तथा आगे चलकर इन्होंने मनोविज्ञान से स्नातक  की डिग्री प्राप्त की इन्होंने यह डिग्री मुंबई के सेंट जेवियर कॉलेज से प्राप्त की थी।

 

शबाना आजमी ने एक्टिंग का भी कोर्स किया। यह कोर्स इन्होंने फिल्म एंड टेलिविजन इंस्टीट्यूट आफ इंडिया पुणे से प्राप्त की ।

 

शबाना आजमी की वैवाहिक जीवन – ( Shabana Azmi’s married life )

 

शबाना आजमी जी का विवाह हिंदी सिनेमा के मशहूर संगीतकार जावेद अख्तर से हुई यह विवाह लव मैरिज विवाह था.जावेद अख्तर पहले से ही शादीशुदा थे। लेकिन शबाना आजमी से प्यार करने लगे थे।

 

जिसके कारण उन्होंने अपनी पहली पत्नी हनी ईरानी को तलाक दे दिया और शबाना आजमी से विवाह किया,

 

इनकी यह जोड़ी आज भी लोगों के बीच एक मिसाल है। क्योंकि यह आज भी एक दूसरे के साथ प्रेम पूर्वक रहते हैं तथा एक-दूसरे से उतना ही प्यार करते हैं जितना पहले करते थे ।

 

शबाना आजमी का करियर – ( Shabana Azmi’s career )

 

 

शबाना आजमी जी बचपन से ही काफी मेहनती और चीजों को सीखने का हुनर रखने वाली महिला थी। इन्हें नई चीजों को समझने और उसको अपने जीवन में वास्तविकता में करने में बहुत ही आनंद आता था।

 

शबाना आजमी जी ने अपने करियर की शुरुआत सन 1973 ईस्वी में फिल्म से की थी इन्होंने अपनी पहली फिल्म श्याम बेनेगल की ‘अंकुर ‘से की थी यह फिल्म शबाना आजमी को बालीवुड में जगह दिलाने में काफी विशेष भूमिका अदा किया था।

 

शबाना आजमी जी को अपनी पहली ही फिल्म के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया था यह बहुत कम ही देखने को मिलता है कि कोई भी व्यक्ति पहली बार में पुरस्कार से सम्मानित किया गया हो लेकिन शबाना आजमी जी ने अपने मेहनत से इस बात को झूठा साबित कर दिया।

 

शबाना आजमी जी को 1883-1885 तक लगातार 3 सालों तक सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया क्योंकि इन्होंने अर्थ,खंडहर और पार जैसे कई सारी फिल्मों में ऐसे-ऐसे रोल अदा किए हैं।

 

जो कि सबके लिए करना कठिन कार्य है। इसी कारण से शबाना आजमी जी को लगातार 3 सालों तक अभिनेत्री के राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

 

शबाना आजमी जी ने और कई सारे फिल्म जैसे अमर अकबर एंथनी ,परवरिश , मैं आजाद हूं जैसी फिल्मों में कलाकारी करके फिल्मों में रंग भर दिया।

 

तथा दर्शकों के दिलों में अपनी जगह बना ली ,और यही कारण है कि शबाना आजमी जी लोगों के बीच में आज भी प्रसिद्ध है क्योंकि यह दर्शकों को लगातार मनोरंजन के लिए ऐसे-ऐसे फिल्म प्रस्तुत करती रही जोकि सबके लिए करना मुमकिन नहीं है।

 

भारतीय सिनेमा जगत में शबाना आजमी जी का नाम अभिनेत्रियों में सबसे ऊपर आता है। उन्होंने ऐसे कई सारे फिल्मों में काम किया जोकि अतुल्य है, वे आज भी पर्दो पर अपनी सक्रिय उपस्थिति दर्ज कराती हैं। जिसमें ट्रैवल्स प्राइवेट लिमिटेड जैसी फिल्मों में उनका अभिनय नई पीढ़ी की अभिनेत्रियों पर हावी रहा। इन्होंने लगातार अपने अभिनय से लोगों का मनोरंजन करने का प्रयास किया है।

 

 

शबाना आजमी को प्राप्त सम्मान एवं पुरस्कार ( Shabana Azmi received honors and awards)

 

 

जैसा कि मैंने आपको पहले ही बताया कि शबाना आजमी एक समाजसेवी के रूप में भी काफी प्रसिद्ध थी। उन्होंने मुंबई की झुग्गी बस्तियों में रहने वाले लोगों के लिए कई सारे कार्य भी किए जिसके लिए इन्हें गांधी इंटरनेशनल अवॉर्ड दिया गया।

 

वर्ष 1992 से 1994 तक वह चिल्ड्रन फिल्म सोसायटी के सभापति भी रही क्योंकि शबाना आजमी जी बचपन से ही बच्चों से काफी मोह रखती थी।

 

शबाना आजमी जी को लगातार पांच बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के राष्ट्रीय पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया। क्योंकि उन्होंने अपने जीवन काल में ऐसे फिल्मों में कार्य किया जो कि लोगों के बीच काफी प्रसिद्ध हुई और पर्दे पर लोगों के बीच काफी धूम मचाई। और यही कारण है कि आज भी लोग शबाना आजमी के फिल्मों का इंतजार करते रहते हैं।

 

 

शबाना आजमी जी को सन 1978ईस्वी में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार प्रदान किया गया क्योंकि उन्हें उनकी एक फिल्म ‘भावना ‘ में उन्होंने काफी शानदार अभिनय किया था।  सन 1984 ईस्वी में फिल्म अर्थ के कारण उन्हें फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार दिया गया तथा 1985 ईस्वी में भी  फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ का पुरस्कार दिया गया। शबाना आजमी जी को अब तक कुल 5 फिल्म फेयर अवार्ड मिल चुके हैं।

 

1988 में इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में उन्हें ‘वूमेन इन सिनेमा’ के टाइटल से भी सम्मानित किया गया तथा भारत के चौथे सबसे सम्मानित सिविलियन ‘अवार्ड पदम श्री ‘ से भी सम्मानित किया गया। इस तरह शबाना आजमी जी को कई सारे पुरस्कारों एवं अवार्ड से सम्मानित किया गया उन्होंने अपने जीवन में काफी सम्मान और लोकप्रियता पाया है जो किन-किन मेहनत का नतीजा है।

 

 

इनके द्वारा की गई प्रसिद्ध फिल्में -( Famous movies )

 

सबीना जी ने बहुत सारी फिल्मों में काम किया जिनमें से प्रसिद्ध फिल्मों के नाम निम्न है

 

अंकुर, अमर अकबर एंथोनी, निशांत , शतरंज के खिलाड़ी, खेल खिलाड़ी का, हीरा और पत्थर, परवरिश, कर्म , आधा दिन आधी रात, स्वामी, देवता ,जालिम ,अतिथि, स्वर्ग नरक , बगुला,  भक्त एक ही फूल,  हम पांच  अपने पराए मासूम ,लोग क्या कहेंगे , दूसरी दुल्हन गंगवा , कल्पवृक्ष कामयाब , द ब्यूटीफुल नाइट , मैं आजाद हूं , इतिहास ,मटरू की बिजली का मंडोला

 

अमर अकबर एंथोनी –  सन 1972 में बनी हिंदी भाषा मैं बनी हास्य फिल्म जो लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हुई इस फिल्म में शबाना आजमी ने काफी अच्छी भूमिका निभाई यह फिल्म मनमोहन देसाई द्वारा निर्देशित और निर्मित है जिसमें विनोद खन्ना और ऋषि कपूर ने मुख्य भूमिका निभाई है।

 

मैं आजाद हु – सन 1989 ईस्वी में हिंदी भाषा की यह फिल्म भी काफी अच्छी एवं हिट फिल्म थी। जिसमें शबाना आजमी जी ने काफी अच्छी भूमिका निभाई इस फिल्म के हीरो अमिताभ बच्चन थे तथा यह फिल्म लोगों के बीच काफी पसंद की गई।

 

भावना –  इस मूवी मैं शबाना आजमी जी को बेहतरीन प्रदर्शन के कारण फिल्म फेयर अवार्ड से सम्मानित किया गया था। यह फिल्म 1984 में प्रकाशित हुई।

 

जिसके डायरेक्टर प्रवीण भट्ट थे, तथा मुख्य भूमिका निभाने वाली शबाना आजमी, मार्क जुबेर ,सतीश शाह उर्मिला मातोंडकर आदि थे।

 

इस प्रकार दोस्तों शबाना आजमी जी ने अपने जीवन में बहुत सारी फिल्मों में कार्य किया और अपने अभिनय से लोगों के दिलों को जीत लिया जिसके कारण लोग आज उन्हें जानते हैं, तथा उनकी प्रशंसा करते हैं।

 

निष्कर्ष  ( conclusion )

 

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से आपने शबाना आज़मी की जीवन से जुड़ी हर एक जानकारी हासिल की जिसमें अपने जाना कि शबाना आजमी की प्रारंभिक जीवनी क्या थी ।उनकी शिक्षा दीक्षा कहां हुई , एवं शबाना जी का विवाह एवं उनका कैरियर किस तरह से चला आदि सब की जानकारी इस पोस्ट के माध्यम से प्राप्त की।

 

दोस्तो आशा करता हूं आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी और शबाना आजमी के जीवन से जुड़ी हर एक जानकारी मिल गई होगी।

 

आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें जिससे अन्य लोग भी उनके जीवन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां प्राप्त कर सकें।

 

दोस्तों यदि आपको इस पोस्ट से संबंधित कोई भी प्रश्न हो तथा आपको ये पोस्ट कैसी लगी इसकी जानकारी आप नीचे कमेंट के माध्यम से हम तक जरूर दें, जिससे हमें पता चल सके कि यह पोस्ट लोगों के लिए कितना ज्ञानवर्धक साबित हुआ। धन्यवाद..….

Leave a Comment