MMS Full Form।
MMS Full Form।

MMS full form: आज के समय में बहुत से लोग अक्सर यह प्रश्न करते हैं कि MMS full form ।
क्या है ? इस प्रश्न का जवाब बहुत कम ही लोग के पास होता है। इस प्रश्न का उत्तर उन्हें सिर्फ वही लोग देते हैं जिसे इसकी अच्छी खासी जानकारी होती है या फिर इससे संबंधित क्षेत्र में कार्य करते हैं।

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से हम आज बात करेंगे कि MMS Full Form क्या होता है। MMS क्या है MMS और SMS में क्या अंतर होता है। एवं MMS जुड़ी सभी प्रकार की जानकारी हासिल करेंगे।

MMS क्या होता है? ( MMS Full Form )

Multimedia Messaging services ( मल्टीमीडिया मैसेजिंग सर्विस) होता है। MMS Multimedia Messaging को भेजने और प्राप्त करने का एक मानक तरीका प्रदान करता है। इसमें images, graphics, audio files, video clips, Rich text आदि शामिल होते हैं।

MMS का इस्तेमाल GPRS और 3G Network दोनों में किया जाता है। GMRS संचालित MMS धीमा है और दूसरी ओर 3G Handle MMS तेजी से और Video Streaming का समर्थन करता है।

MMS का उपयोग केवल उन उपकरणों में किया जा सकता है, जो इस सेवा का समर्थन करते हैं। यह डिवाइस मोबाइल फोन, स्मार्टफोन, पर्सनल कंप्यूटर, हैंडहेल्ड डिवाइस इत्यादि हो सकते हैं। Multimedia Messaging Service को पहली बार Captive Technology रूप में विकसित किया गया था। यह images, audio और video files को साझा करने में आसान बनाता है।

MMS Full Form।
MMS Full Form।

MMS Full Form

MMS का फुल फॉर्म ” Multimedia Messaging services” होता है।

Read also:  NRC FULL FORM। NRC क्या है। Full details

Read also:  ED Full Form। ED क्या है। Full Details In Hindi

MMS और SMS मे क्या अंतर है?

आज Text संदेश भेजने के लिए कई सारे अलग-अलग तरीके होते हैं आप चाहे iPhone या Android का उपयोग भी कर सकते हैं। आपने संभवत बहुत सारे Texting Applications का प्रयोग भी किया है।

आप शायद एसएमएस और एम एम एस जैसे विभिन्न शब्दों को भी जरूर कहीं सुना होगा और लोगों की लोकप्रिय मोबाइल टेक्स्ट मैसेजिंग एप जैसा कि WhatsApp, iMessage और WeChat मैं भी आ सकते हैं। आगे हम चर्चा करते हैं कि इनमें से प्रत्येक शब्द का अर्थ क्या होता है? और प्रौद्योगिकियों मैं उन्हें अंतर शक्ति प्रदान करता है।

आइए आज हम SMS और MMS के अंतर के बारे में भी थोड़ी जानकारियां प्राप्त कर ले:

SMS

SMS का फुल फॉर्म Short Message Service( शॉर्ट मैसेज सर्विस) होता है। SMS का आविष्कार 1980 के दशक में किया गया था और 1985 में GSM Standards को परिभाषित किया गया था। यह सबसे पुरानी टेस्टिंग तकनीकों में से एक है। आज के समय में भी यह सबसे व्यापक है और इससे अक्सर रोजमर्रा के जीवन में प्रयोग में भी लाया जाता है।

MMS

MMS का फुल फॉर्म Multimedia Messaging Services होता है। यह एस एम एस उपयोगकर्ताओं के लिए मल्टीमीडिया सामग्री में भेजने की अनुमति देने के लिए s.m.s. के रूप में एक प्रकार का ही तकनीक का उपयोग करके बनाया गया था।

यह किसी भी प्रकार के चित्रों को भेजने के लिए लोगों की सबसे लोकप्रिय है लेकिन इसका प्रयोग ऑडियो के लिए, फोन से संपर्क स्थापित करने के लिए और वीडियो फाइलों को भेजने के लिए भी किया जा सकता है।

क्योंकि MMS और s.m.s. दोनों एक ही सेलुलर नेटवर्क पर भेजे जाते हैं उन्हें शुरू करने के लिए सेल्यूलर वाहक से केवल एक ही वायरलेस योजना की जरूरत होती है।

Standard SMS मैं प्रति संदेश में 160 वर्णित तक का संदेश सीमित रहता है। यदि कोई संदेश कि इस सीमा को पार कर जाता है तो उसकी लंबाई चौड़ाई के आधार पर इसे 160 वर्णों के कई खंडों में विभाजित किया जा सकता है। अधिकांश वाहन आज भी इन संदेशों को एक साथ ही श्रृंखलाबद्ध करते हैं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि वह भेजे गए संदेश क्रम में आते हैं।

MMS का मतलब क्या होता है?

MMS को मल्टीमीडिया सर्विस भी कहा जाता है। यह ऐसा तकनीक है जिसका उपयोग मल्टीमीडिया मैसेज को भेजने और उसे प्राप्त करने के लिए किया जाता है।

इसमें इमेजेस , ग्राफिक्स, ऑडियो फाइल्स, वीडियो क्लिप्स और अधिक टेक्स्ट को आसानी से किया जा सकता है। इसका उपयोग केवल उन्हीं उपकरणों में किया जा सकता है जो इसका सपोर्ट कर सकते हैं।

यह तकनीकी मोबाइल फोन स्मार्टफोन पर्सनल कंप्यूटर इत्यादि में सपोर्ट करती है। इसका उपयोग GPRS, 3G और 4G नेटवर्क पर भी किया जा सकता है। GPRS के द्वारा एम एम एस धीमी गति से जाता है और 3G से तेजी गति के साथ जाता है 4G से सबसे तेजी के साथ संदेश भेजा जा सकता है। यह वीडियो स्ट्रीमिंग का भी समर्थन करती है।

एम एम एस और एसएमएस का विश्व में उपयोग:

संयुक्त राज्य अमेरिका में s.m.s. का सबसे अधिक प्रयोग किया जाता है। इससे इसकी लोकप्रियता का पता चलता है क्योंकि वहां के अधिकांश लोग एस एम एस का प्रयोग अधिक करते हैं इसलिए इससे लोकप्रिय कहा गया है। अधिकांश मोबाइल नेटवर्क कंपनियां इसकी सुविधा प्रदान करना चाहती है। एसएमएस की सुविधा को लगभग मुफ्त रखा गया है। आईफोन उपयोगकर्ताओं की संख्या पूरे देश में बढ़ती ही जा रही है। इसलिए iMessage को दूसरे स्थान पर ही रखा जाता है।

पिछले कई दशकों में टेस्टिंग मैसेज की संख्या में बहुत अधिक तक वृद्धि हो गई है। यह अकेले ही पूरे यू एस में 6 बिलियन से अधिक है। अमेरिका में इसकी संख्या 2010 से 2013 तक इसकी संख्या 57 बिलीयन से बढ़कर लगभग 96 बिलियन तक पहुंच गई थी। यह लगभग फ्री हो जाने के कारण इसे 18 वर्ष से 24 वर्ष तक के अमेरिकी स्मार्टफोन धारकों को प्रतिदिन 67 टेक्स्ट का आदान प्रदान करते हैं।

MMS से फोटो कैसे सेंड होता है?

आप अपने फोन के स्क्रीन को नीचे स्क्रॉल करें और फिर “MMS Messaging” को “On” पोजीशन पर स्लाइड कर दें। यह SMS/MMS सेक्शन में लोकेट हो जाता है और फिर ग्रीन हो जाएगा। यह आपको आपके कैरियर के डाटा प्लान का भी पूरा यूज़ करते हैं। आपके डाटा प्लान का यूज़ करते हुए आपको आपके फोन से ही पिक्चर्स और वीडियोस दोनों ही साथ में मैसेज के द्वारा भेजा जा सकता है।

Read also:  RTO full form। RTO क्या है। Full Details In Hindi

Read also:  FIR Full Form। FIR क्या है। सम्पूर्ण जानकारी

निष्कर्ष ( Conclusion )

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से हमने MMS क्या है MMS Full Form क्या है। MMS और SMS मे अंतर क्या है, और MMS से जुड़ी हुई कई तरह की जानकारियां प्राप्त की।

दोस्तों आशा करते हैं आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी और MMS से जुड़ी यह जानकारी अच्छी लगी होगी और बहुत कुछ नया सीखने को मिला होगा ।

यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगती हो या कुछ भी नया सीखने को मिला हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

जिससे अन्य लोग भी एनआरसी से जुड़े सभी प्रकार की जानकारियां प्राप्त कर सकें तथा दोस्तों यदि आपके मन में इस पोस्ट से संबंधित कोई प्रश्न और नीचे कमेंट के माध्यम से वस्त्र पूछे हम आपके प्रश्नों के उत्तर अवश्य देंगे ।

 

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here