PHP Full Form
PHP Full Form

PHP Full Form : आज इस आर्टिकल में मैं आप सबको पीएचपी क्या है? इसका पूरा नाम क्या होता है एवं इससे जुड़ी सभी प्रकार की जानकारी आज हम आपको देने वाले हैं। आप सबको पीएचपी का इस्तेमाल काफी जगहों पर करना पड़ेगा जैसे कि यदि हम फेसबुक के बारे में बात करें तो इसका निर्माण भी पीएचपी के उपयोग से ही किया गया है। पीएचपी हमारे लिए एक वरदान की तरह है.

जिसके जरिए हम एक अच्छी से अच्छी वेबपेज अपनी स्वेच्छा से या अपनी इच्छा अनुसार आसानी से बना सकते हैं। आज हम अपने इस पोस्ट में आपको पी एच पी के फुल फॉर्म के साथ साथ पीएचपी से जुड़ी सभी तरह की जानकारी आप तक पहुंचाएंगे जैसे पीएचपी कब और किसने बनाया पीएचपी से होने वाले क्या-क्या फायदे हैं यह सब कुछ मैं आज आप तक पहुंचाऊंगी।

PHP क्या है ? 

PHP एक तरह का ओपन सोर्स सर्वर साइड स्क्रिप्टिंग भाषा होता है जो विशेष रूप से केवल सर्वर साइड वेब डेवलपमेंट के लिए ही उपयोग में लाया जाता है। ज्यादातर वेब अनुप्रयोगों में सर्वर साइड प्रोग्रामिंग के लिए पीएचपी का ही उपयोग किया जाता है। आप सभी के द्वारा देखी जाने वाली अधिकतर वेबसाइट पीएचपी द्वारा ही उपयोग में लाई जाती है।

पीएचपी एक तरह का programming language होता है जिसका उपयोग हम किसी ऑनलाइन स्क्रिप्ट को बनाने के लिए अक्सर करते हैं। पीएचपी के जरिए हम खुद से कोई वेबसाइट बना सकते हैं एवं एचटीएमएल के साथ भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।

पीएचपी एक तरह का सर्वर साइड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसका मतलब यह होता है कि आप जो भी पीएचपी से तैयार हुए वेबसाइट को किसी भी कंप्यूटर पर खोलते हैं तो उसका रिक्वेस्ट सबसे पहले सर्वर पर ही जाता है उसके बाद उसका जो रिजल्ट आता है वह सबसे पहले आपके स्क्रीन पर दिखता है।

इसी वजह से आप पीएचपी के उपयोग से अपने वेबसाइट के लिए किसी डायनेमिक पेज को भी आसानी से तैयार कर सकते हैं। आप सभी को यह जानकर बहुत आश्चर्य होगा कि पीएसपी द्वारा ही फेसबुक को बनाया गया है इतना ही नहीं बल्कि हम किसी ब्लॉक को तैयार करने के लिए जिस वर्डप्रेस की सहायता लेते हैं वह वर्डप्रेस भी पीएचपी पर ही आधारित होता है। यदि आप सभी पीएचपी से जुड़ी और भी कई तरह की जानकारी एवं इसके फुल फॉर्म को जानने की इच्छा रखते हैं तो इस पोस्ट को पूरा अवश्य पढ़ें।

PHP Full Form
PHP Full Form

पीएचपी का फुल फॉर्म क्या है? ( PHP Full Form ) 

PHP Full form Hypertext preprocessor होता है एवम् पीएचपी को हम साधारण भाषा में personal home page भी कह सकते हैं। यह एक तरह का एचटीएमएल scripting language है। इस स्क्रिप्टिंग लैंग्वेज का उपयोग वेब डेवलपमेंट को डिजाइन करने के लिए किया जाता है। इसका इस्तेमाल हम जनरल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में भी कर सकते हैं। आजकल डायनेमिक वेबसाइट एवं वेब एप्लीकेशन के निर्माण के लिए पीएचपी मुख्य रूप से लोकप्रिय होता जा रहा है।

पीएचपी की खोज rasmus lerdrof द्वारा की गई हैं। वर्ष 1994 ईस्वी में rasmus lerdrof ने इस पीएचपी की खोज की थी एवं इसे 1995 ईस्वी में पूरी दुनिया के सामने लाया गया था। C , C++ एवं java जैसे बहुत से साइनटेक्स को पीएचपी से लिया गया है। एचटीएमएल के साथ पीएचपी कोड्स को आसानी से उपयोग में लाया जा सकता है। किसी भी तरह के डायनामिक पेज को हम आसानी से पीएचपी की मदद से हम आसानी से बना सकते हैं।

शुरुआत में rasmus lerdrof ने कॉमन गेटवे इंटरफेस नामक एक प्रोग्राम को तैयार किया था जिसे बनाने के लिए उन्होंने C प्रोग्रामिंग भाषा का उपयोग किया था। इसी प्रोग्राम के माध्यम से ladrof ने अपना एक पर्सनल होम पेज तैयार किया था। इसमें विशेष रूचि होने के कारण उन्होंने एक वेब पेज तैयार करने के लिए अपने डेटाबेस का उपयोग किया था। उसी वक्त इसे पर्सनल होम पेज नाम दिया गया। उसके बाद इसमें कई सारे बदलाव किए गए जिसे आज हम हाइपर टेक्स्ट प्रीप्रोसेसर एवं पीएचपी के नाम से भी जानते हैं।

यदि आप लोगों के पास CSS (Cascading Style Sheets) और HTML ( Hypertext Markup Language) की अच्छी खासी जानकारी मौजूद हो तो आपको पीएचपी के बारे में जानने में अधिक कठिनाई नहीं होगी। यदि आप पीएचपी पर कार्य करना चाहते हैं तो आप सभी को डेटाबेस प्रबंधन प्रणाली के बारे में पूरी जानकारी पता होनी चाहिए। विभिन्न प्रकार के डेटाबेस को पीएचपी बहुत अधिक सपोर्ट करता है जैसे कि MySQL, Sybase, Oracle, MS-Access, SQLite और Informix इत्यादि है।

कोई भी पीएचपी को आसानी से डाउनलोड कर सकता है एवं इसका इस्तेमाल भी कर सकता है क्योंकि पीएचपी एक ओपन सोर्स प्रोग्रामिंग भाषा होती है परंतु पीएचपी एक प्रकार की server-side भाषा भी है इसलिए इसका उपयोग करने के लिए सबसे पहले आपको अपने कंप्यूटर पर XAMPP Software और WAMPServer को इंस्टॉल करना होता है। पीएचपी के साथ मिलकर आप लॉगइन सिस्टम, फॉर्म, ईआरपी सिस्टम, स्टैटिक वेबसाइट, डायनेमिक वेबसाइट, वेब एप्लीकेशन एवं और भी अन्य कई सारी चीजें आप इसमें बना सकते हैं।

Texts , scripts एवम् HTML tags इन सभी को मिलाकर ही एक पीएचपी फाइल को बनाया जाता है जिसका file extension PHTML, PHP3 एवं PHP ही होता है। इस फाइल एक्सटेंशन की सहायता से आप फॉर्म को डिजाइन करना लॉगइन पेज फॉर्म बनाना स्टैटिक वेबसाइट एवं डायनेमिक पेज को भी आसानी से बना सकते हैं।

PHP के लाभ :

यदि हम पीएचपी से होने वाले लाभ की बात करें तो उसके कुछ निम्न प्रकार है जैसे-

1. PHP पूर्ण रूप से फ्री ऑफ कॉस्ट होता है। पीएसपी के सभी कॉम्पोनेंट्स एवं सोर्स यह सभी मुफ्त होते हैं।

2. PHP के जितने भी प्लेटफार्म होते हैं वह सभी प्लेटफॉर्म इंडिपेंडेंट होते हैं एवं यह सभी ऑपरेटिंग सिस्टम पर ही कार्य करते हैं।

3.आज के वक्त में जितने भी सर्वस्व मौजूद है  पीएचपी उन सभी के साथ कार्य करता है।

4. PHP मैं एक तरह का सिक्योरिटी मल्टीपल लेयर मौजूद होते हैं जो इसे किसी भी प्रकार के malicious attack एवं threat से आने वाले खतरे से बचाता है।

5. PHP अपने codes c, c++, HTML आदि के साथ जुड़ा हुआ होता है इसी कारण इस प्रोग्राम को सीखना बहुत आसान होता है। पीएचपी को हम काफी आसान तरीके से जान सकते हैं एवं इसके साइनटेक्स को भी आसानी से हम समझ भी सकते हैं।

PHP के नुकसान :

यदि हम सभी पीएचपी से होने वाली हनी की बात करें तो उसके निम्न प्रकार है जैसे-

1. पीएचपी में बड़े बड़े वेब एप्लीकेशन स्कोर को बनाए रखना काफी मुश्किल होता है। पीएचपी बड़े वेब अनुप्रयोगों के लिए उपयुक्त नहीं होती है क्योंकि इसके द्वारा बड़े-बड़े एप्लीकेशन को बनाए रखना काफी मुश्किल होता है एवं यह बहुत मॉड्यूलर नहीं होते हैं।

2. पीएचपी फ्रेमवर्क में एक तरह का एरर हैंडलिंग मेथड होता है जो किसी भी तरह के पीएचपी डेवलपर के लिए उचित समाधान नहीं होता है इसी वजह से यह पीएचपी डेवलपर के लिए एक बड़ी समस्या है।

Conclusion

मैं आशा करता हूं आज का हमारा यह पोस्ट आपको पसंद आया होगा एवं पीएचपी से जुड़ी सभी तरह की जानकारी जैसे पीएचपी क्या है,PHP Full Form क्या होता है इसके क्या लाभ है एवं इस से क्या क्या हानि होती है यह सब आप तक पहुंचाने में हमने काफी हद तक प्रयास किया है एवं इससे जुड़ी कई तरह की जानकारियां हमने हासिल की है।

यदि आप सभी को PHP से जुड़ी जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे सोशल मीडिया पर जरूर से जरूर शेयर करें एवं अन्य लोगों तक भी पीएचपी से जुड़ी जानकारी पहुंचाए एवम् साथ ही साथ यदि आपके मन में किसी भी तरह का कोई भी प्रश्न हो तो उसे नीचे कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूछें हम आपके प्रश्नों के उत्तर देने का प्रयास अवश्य करेंगे धन्यवाद….

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here