RTO full form
RTO full form

RTO full form : हेलो दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से हम आरटीओ के बारे में जानकारी हासिल करेंगे।  आरटीओ का संबंध आज के समय में चलने  वाहनों से है।

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से हम  जानेंगे कि RTO full form आरटीओ क्या होता है ,RTO की प्रमुख भूमिका क्या है, इसके क्या क्या कार्य होते हैं, आरटीओ से व्हीकल इनफार्मेशन कैसे निकाला जाए यदि आप इन सब के बारे में नहीं जानते हैं तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं।

इस पोस्ट को पढ़कर आपको यह पता चल जाएगा कि आरटीओ क्या होता है एवं उसके क्या-क्या फायदे एवं तरीके हैं।

RTO Full Form – RTO क्या है

आरटीओ का पूरा नाम regional transport office होता है। इसको हिंदी में क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय भी कहा जाता है। आरटीओ का कार्य है कि वह यातायात से जुड़ी हर चीज का ध्यान रखें। हमारे देश के लगभग सभी जिलों में आरटीओ पाए जाते हैं एवं इन सभी को आरटीओ से संबंधित एक code दिया जाता है। भारत में सभी क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय राज्यमार्ग मंत्रालय एवं भारत सरकार के सड़क परिवहन के अधीन कार्य करते हैं।

Motor vahan adhiniyam 1988 की धारा 213(१) के तहत मोटर वाहन विभाग की स्थापना की गई है। यह अधिनियम एक केंद्रीय अधिनियम है। इस अधिनियम के विभिन्न प्रावधानों को लागू करने के लिए मोटर वाहन विभाग जिम्मेदार होता है। इसका नेतृत्व मोटर वाहन विभाग द्वारा आयुक्त किया जाता है। मोटर वाहन अधिनियम 1988 में रखे गए गतिविधियों को एवं कार्यों को पूरा करने के लिए केंद्रीय परिषद मैं स्थित प्रत्येक आरटीओ जिम्मेदार होता है।

हर गाड़ी के पीछे यूनिक और एक स्पेशल नंबर देखा होगा वह नंबर प्लेट पर दिया गया नंबर आरटीओ द्वारा दिया जाता है। आरटीओ द्वारा दिया गए नंबर कि अगर आप सही जानकारी रखते हैं तो उस जानकारी से हमें काफी हद तक गाड़ी की सभी जानकारी प्राप्त हो जाती है। आरटीओ द्वारा दिया गया नंबर प्लेट से गाड़ी किस राज्य किस जिले की है इसकी भी संपूर्ण जानकारी आपको मिल जाती है।

हर गाड़ी का रजिस्ट्रेशन आरटीओ कार्यालय में ही होता है। यहां तक कि ड्राइविंग लाइसेंस भी आरटीओ कार्यालय में ही दिया जाता है। गाड़ी का इंश्योरेंस और प्रदूषण की परीक्षण भी आरटीओ कार्यालय में ही होता है। रोड टैक्स की वसूली भी आरटीओ ही करता है।

Read  Also : SSC Full Form। SSC क्या है। सम्पूर्ण जानकारी

Read  Also : OPD Full Form। OPD क्या है। Full Details

RTO full form
RTO full form

RTO की प्रमुख भूमिका क्या है?

अगर कोई व्यक्ति नई गाड़ी  खरीदता है तो उसे जरूरी कागजात आरटीओ ऑफिस में ही जाकर बनवाने पढ़ते हैं आरटीओ के कार्य एवं महत्वपूर्ण तथ्य निम्नलिखित हैं।

Insurance

RTO किसी व्यक्ति को वाहनों का बीमा प्रदान करती है। यदि आप अपने वाहन का बीमा कराने के इच्छुक है तो इसके लिए आपको आरटीओ के कार्यालय में ही जाना पड़ेगा। आरटीओ ऑफिस में इसके अलावा गाड़ियों की फिटनेस रोग आदि सभी काम किए जाते हैं।

Pollution Test

आरटीओ एक ऐसी पद्धति है जिसके द्वारा किसी गाड़ी के पॉल्यूशन लेवल का टेस्ट किया जा सकता है। यदि कोई व्यक्ति अधिक प्रदूषण वाली गाड़ियां चला रहा हो तो आरटीओ द्वारा उसका लाइसेंस रद्द भी किया जा सकता हैं।

Driving Licence

आरटीओ एक ऐसे डेटाबेस को नियंत्रित करता है जिसमें केवल वाहन ही नहीं बल्कि उसके ड्राइवर से भी संबंधित सभी प्रकार की जानकारी उपलब्ध होती है। किसी भी व्यक्ति को ड्राइविंग लाइसेंस प्रदान करना आरटीओ का कार्य होता है। किसी व्यक्ति को ड्राइविंग लाइसेंस प्रदान करने के लिए आरटीओ उसका ड्राइविंग टेस्ट लेती है उसके बाद ही वह उस व्यक्ति को लाइसेंस देती है।

Vehicle Registration

यदि कोई व्यक्ति नए वाहन खरीदता है तो उस व्यक्ति को वाहन पर कानूनी तौर पर अधिकार पाने के लिए उसे वाहन का रजिस्ट्रेशन करना होता है। वाहन चलाने वाले हर व्यक्ति के लिए रजिस्ट्रेशन नंबर लगाना अनिवार्य होता है क्योंकि बिना रजिस्ट्रेशन नंबर के वाहन चलाना कानूनी अपराध माना जाता है। वाहन का रजिस्ट्रेशन आरटीओ ऑफिस में किया जाता है एवं वहां पर वाहन के लिए एक नंबर भी दिया जाता है। जिसे हम वाहन का नंबर प्लेट कहते हैं।

Functions of the Regional Transport Office (R.T.O) :

आरटीओ का कार्य समय-समय पर सरकार द्वारा निर्धारित केंद्रीय मोटर वाहन नियम मोटर वाहन नियमों एवं राज्य मोटर वाहन नियमों के विभिन्न कार्यों के प्रावधानों को समय पर लागू करना है।

उसका कार्य सरकार द्वारा निर्धारित परमिट के प्रबंधन के माध्यम से सड़क परिवहन में सुधार का कार्य सुनिश्चित करना है।

आरटीओ का कार्य वाहन अधिनियम के प्रावधानों के अंतर्गत आने वाले रोड टैक्स टोल टैक्स आदि टैक्स को जमा कर उसे सरकार तक पहुंचाना है।

RTO full form
RTO full form

 RTO Activities:

1.वाहन का पंजीकरण करना
2.मोटर वाहन के लिए कर जमा करना
3.माल ट्रांसपोर्ट एवं पब्लिक के लिए लाइसेंस जारी करना
4.driving test का संचालन एवं स्थाई ड्राइविंग और लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस को जारी करना एवं इसे स्वीकृति देना।
5.रजिस्टर वाहनों एवं उसके ड्राइवर का डेटाबेस बनाए रखना
6.गिरवी वाहन एवं वाहन हस्तांतरण के रजिस्ट्रेशन को मेंटेन रखना।
7.मोटर वाहनों के बीमा के एस्पायर होने की उचित जांच करना
8.accidental गाड़ियों का मैकेनिकल जांच करना
9.वाहन को परिवहन के लिए अनुदान प्रमाण पत्र देना
10.ऑटो रिक्शा टैक्सी एवं अन्य सार्वजनिक सेवाओं के ड्राइवरों के लिए बेच जारी करना अंतर्राष्ट्रीय ड्राइविंग परमिट प्रदान करना।

RTO से व्हीकल इनफार्मेशन कैसे निकलते हैं?

यदि आप किसी वाहन की इंफॉर्मेशन प्राप्त करना चाहते हैं तो इस इंफॉर्मेशन को प्राप्त करने के लिए सबसे पहले आपको vahan.nic.in मैं जाकर वहां आपको साइड में न्यू में व्हीकल स्टेटस का ऑप्शन आएगा जिस पर आप को क्लिक करना होगा।

वहां पर क्लिक करने के बाद आपको वाहन के नंबर को एंटर करने दिया जाएगा। जैसे ही आप अपने नंबर को हैंडल करेंगे आपको वहां दो इनपुटबॉक्स दिए जाएंगे जिसमें आपको अपना व्हीकल नंबर लिखना होता है।
Ex. आप मान लीजिए यदि किसी वाहन का नंबर AP 83 XY 1235 है तो आपको इस नंबर को दो भागों में विभाजित करना होगा। पहले इनपुट बॉक्स में आप AP83XY लिखेंगे एवं दूसरे इनपुटबॉक्स में आप 1235 लिखेंगे।

अपने वाहन के नंबर को लिखने के बाद नीचे आपको एक और इनपुटबॉक्स दिया जाएगा जिसमें आपको उस इनपुट बॉक्स के सामने लिखा गया captcha code लिखना होगा एवं उसके बाद आपको सर्चिंग वाहन के बटन पर क्लिक करना है।

सर्चिंग बटन पर क्लिक करने के बाद जब आप vahan.nic.in वेबसाइट पर जाते हैं तो आपको वाहन स्टेटस ऑप्शन के ठीक ऊपर  मैं पेड व्हीकल सर्च का भी एक ऑप्शन दिखाई देगा उस ऑप्शन पर आपको क्लिक करना है क्योंकि व्हीकल स्टेटस ऑप्शन आपको आपके वाहन के बारे में पूरी जानकारी नहीं देता है।

Paid vehicle search option की सहायता से आप किसी अन्य वाहन की जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं परंतु इसके लिए आपको इसमें एक्सीडेंट क्रिएट करना होगा जिसके लिए आपको पैसे भी पेड करने होंगे।

Read  Also : OPD Full Form। OPD क्या है। Full Details In Hindi

Read  Also : ATM Full Form। ATM क्या है। Full Details

निष्कर्ष ( Conclusion )

दोस्तों इस पोस्ट के माध्यम से आप ने जाना कि RTO full form क्या है आरटीओ क्या है आरटीओ से वाहन का इंफॉर्मेशन कैसे निकालते हैं आरटीओ की प्रमुख भूमिका क्या है साथ ही साथ हमने आरटीओ से जुड़ी हर एक प्रकार की जानकारी हासिल की।

आशा करते है, दोस्तों आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी और पार्टियों से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी मिल गई होंगी यदि आपको जानकारी चलेगी वह तो से सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें तो भेज दिया आपके मन में कोई हो तो नीचे कमेंट के माध्यम से हम आपके पास तो उत्तर देंगे।

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here